ज्ञानवापी सर्वे 80 फीसदी पूरा: हिंदू पक्ष बोले- सर्वे में मजबूत हुआ दावा, बढ़ाई गई सिक्योरिटी, कल भी होगी वीडियोग्राफी...

Gyanvapi survey 80 percent complete: Hindu side said - survey strengthens claim, increased security, videography will be done tomorrow too. दूसरे दिन कोर्ट कमिश्नर ने ज्ञानवापी सर्वे का 80 फीसदी कार्य पूरा कर लिया है. दूसरे दिन हिंदू पक्ष के अधिवक्ता ने कहा है की सर्वे से हमारा दावा और भी मजबूत हुआ है.

ज्ञानवापी सर्वे 80 फीसदी पूरा: हिंदू पक्ष बोले- सर्वे में मजबूत हुआ दावा, बढ़ाई गई सिक्योरिटी, कल भी होगी वीडियोग्राफी...

वाराणसी,भदैनी मिरर। ज्ञानवापी मस्जिद के दूसरे दिन का सर्वे का काम दूसरे दिन भी पूरा नहीं हो सका। सोमवार को भी सुबह 8 बजे से सर्वे का काम जारी रहेगा। दूसरे दिन सर्वे के दौरान मलवे की वजह से समय ज्यादा लग गया। वही, कोर्ट कमिश्नर ने कहा है की वादी, प्रतिवादी और जिला प्रशासन का सहयोग पूरा मिल रहा है। दूसरे दिन 80% तक सर्वे पूरा हो चुका है। 52 लोगों की टीम ने रविवार सुबह 8 बजे से 11:40 बजे तक सर्वे किया।हिंदू पक्ष के अधिवक्ता ने कहा है की दूसरे दिन के सर्वे के बाद हमारा दावा और भी मजबूत हुआ है।

सभी पक्ष संतुष्ट है

सूत्रों की मानें तो ज्ञानवापी मस्जिद के नक्काशीदार गुंबद के अलावा छत, कमरों, बाहर की दीवारों, बरामदे, तालाब के आसपास की वीडियोग्राफी-सर्वे हुआ। उधर, मिश्रित आबादी वाले इलाकों में पुलिस फोर्स अलर्ट रही। गलियों में मार्च कर शांति की अपील की गई। पुलिस कमिश्नर ए.सतीश गणेश ने कहा कि आज सुरक्षा थोड़ी और बढ़ा दी गई थी। वहीं, सर्वे के बाद बाहर निकले सरकारी अधिवक्ता अरुण कुमार त्रिपाठी ने कहा है की सभी पक्ष संतुष्ट है, सौहार्दपूर्ण वातावरण में काम चल रहा है। वही मुस्लिम पक्ष के अधिवक्ता  कुछ भी बोलने से बचते रहे।

सुरक्षा स्ट्रेटजी बदलते हुए सिक्योरिटी बढ़ाई गई 

सर्वे के पहले दिन परिसर के बाहर 10 लेयर की सिक्योरिटी थी, जिसे दूसरे दिन रविवार को बढ़ाकर 12 लेयर का कर दिया गया है। पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया की आज स्ट्रेटजी बदली गई है, इन बातों का विशेष ध्यान दिया जा रहा है कि दर्शन-पूजन करने वाले श्रद्धालुओं को असुविधा न हो। कोर्ट के आदेश के बाद शनिवार को पहले दिन 50% एरिया में वीडियोग्राफी और सर्वे हुआ। इस दौरान सुरक्षा की सुदृढ़ व्यवस्था की गई थी। काशी विश्वनाथ मंदिर के श्रद्धालुओं को ढूंढी राज गणेश और गंगा नदी द्वार के माध्यम से प्रवेश देते हुए ज्ञानवापी के संयुक्त द्वार नंबर 4 को जन सामान्य के प्रवेश को  चार घंटे बंद रखा गया। कमीशन की कार्यवाही शांतिपूर्वक माहौल में सुचारू रूप से चली । इस दौरान प्रतिवादी पक्षकार उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से अपरजिलाधिकारी प्रशासन, जिलाधिकारी वाराणसी की ओर से अपरजिलाधिकारी नगर, पुलिस आयुक्त वाराणसी की ओर से अपर उपायुक्त और काशी विश्वनाथ ट्रस्ट की ओर से मुख्य कार्यपालक अधिकारी कमीशन कार्यवाही के हिस्सा बने। 

पब्लिक और मीडिया को रखा गया दूर

सुरक्षा और सर्वे को लेकर 500 मीटर के दायरे में पब्लिक की एंट्री बैन रही। चारों तरफ से आने वाले रास्तों पर पुलिस और पीएसी का पहरा रहा। बैरिकेडिंग करके रास्ते बंद कर दिए गए। गोदौलिया से गेट नंबर-4 यानी ज्ञानवापी तक पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने पैदल मार्च किया। शांति की अपील की। काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन पूजन करने वालों के लिए गेट नंबर एक खोला गया था।

ज्ञानवापी के पास वाले गेट से मंदिर में प्रवेश नहीं दिया जा रहा था। एक किलोमीटर के दायरे में करीब 1500 पुलिस और पीएसी के जवान तैनात रहे। 500 मीटर के दायरे में छतों पर सुरक्षा में जवान लगे हैं। आसपास की दुकानों को सर्वे होने तक बंद रखा गया।

यह भी पढ़े - ज्ञानवापी सर्वे: कड़ी सुरक्षा के बीच पहले दिन का सर्वे समाप्त, 4 घंटे तक हुई वीडियोग्राफी, CP ने जनता का जताया आभार...