फॉलोअप: पहले मुक्के से किया प्रहार फिर दाग दी गोली, उठे सवाल पुलिस से बेखौफ है हमलावर..?

                             

पिता बोले घर के नून-रोटी चलावत रहले राजेश, कैसे रहिएं दू साल के पोता और पतोह..?

मृतक राजेश की फ़ाइल फोटो

  Ford Hospital                           

वाराणसी, भदैनी मिरर। अपने संयुक्त परिवार की जिम्मेदारियों को उठाने वाला राजेश रोज की तरह जनता के घरों को रौशन करने के लिए अपने ड्यूटी संकुलधारा उपकेंद्र बाइक से निकला तो सब कुछ ठीकठाक था। घर से निकलने के चंद मिनटों के बाद जब पुलिस संदेशा लेकर पहुंची की राजेश को बदमाश ने गोली मार दी है तो घर मे मातम छा गया। पिता श्याम सुंदर रंगीले गस्त खाकर गिर पड़े। वही पत्नी नीलम की दहाड़ सुन आसपास के लोग इक्कठे हो गए, जबकि दो वर्षीय मासूम बेटा मनीष सर से पिता का छाया हट जाने की घटना से अनभिज्ञ रहा।

घटनास्थल पर पड़ा खोखा

कानून व्यवस्था पर उठे सवाल

सुंदरपुर और खोजवा बाजार के बीच स्थित दशमी मोड़ पर हुई घटना के बाद हर किसी के जुबान पर एक ही सवाल था, आखिर इतनी घनी आबादी में बदमाश गोली कैसे मार दिया? इस घटना के बाद लोगों के बीच कानून-व्यवस्था को लेकर सवाल खड़ा होने लगा। लोगों ने पुलिस और पुलिसिंग पर सवाल खड़ा किए और कहा कि पुलिस जब सक्रिय नहीं रहेगी तो घटनाएं कैसे रुकेंगी? स्थानीय लोगों ने दबे जुबान यह भी स्वीकार किया कि खोजवा पुलिस की फैंटम और पुलिस की गश्त ठंड में कम हो गई है।

‘घटना के खुलासे में चार टीमें लगाई गई है, शुरुआती कुछ चीजें सामने आई है, जिसके आधार पर हमलावर शीघ्र ही पुलिस गिरफ्त में होगा’-अमित पाठक, एसएसपी वाराणसी

गमगीन था ट्रामा सेंटर का माहौल

घटना की जानकारी के बाद ट्रामा सेंटर पहुंचे पिता श्यामसुंदर

घटना की जानकारी के बाद जब राजेश के पिता श्याम सुंदर विश्वकर्मा ट्रामा सेंटर पहुंचे तो पूरा माहौल गमगीन हो गया। पिता रोते-रोते गस्त खाकर गिर गए तो परिजनों ने उन्हें संभाला। श्याम सुंदर बार-बार एक ही शब्द बोल रहे थे ‘ न हमरे पास जमीन ह न रुपया ह, न हमार कोई से लड़ाई बा, घर के नून-रोटी इहे लाल चलावत रहलन, दू साल के पोता और पतोह कैसे रहिये..? भगवान बड़ा अनर्थ कइला’। पिता की हालत देख किसी के पास पिता को ढांढस बंधवाने के शब्द नहीं थे। पत्नी नीलम यह कहते हुए ‘की तोहरे बिना कैसे रहब’ छाती पीटकर रोते-रोते बेसुध हो रही थी। जो भी यह दृश्य देखा उसकी आंखें डबडबा जा रही थी।

सफेद कुर्ता और जीन्स में आया हमलावर

हमलावर को यह मालूम था कि राजेश रोज सुंदरपुर-खोजवां होते हुए ही निश्चित टाइम पर अपने ड्यूटी जाता था। पुलिस से बेखौफ बदमाश सफेद कुर्ता और जीन्स में आया। पुलिस को सीसीटीवी कैमरे से अहम सुराग हाथ लगे है। घटना के बाद धड़ाधड़ दुकानों के शटर बंद हो जाने से ज्यादा सीसीटीवी कैमरे पुलिस नहीं खंगाल सकी मगर कुछ फुटेज पुलिस को हाथ लगे है। सूत्रों की माने तो पहले हमलावर मुक्के से प्रहार कर राजेश को गाड़ी से गिराया फिर गोली उसके सिर में गोली दागी। हमलावर राजेश के सिर में गोली लगने के बाद गली के रास्ते निकल गया। इस घटना में दो से तीन लोगों के शामिल होने की आशंका है क्योंकि राजेश के पहुंचने से चंद मिनट पहले ही हमलावर पहुंचा था।

मूल खबर

             

         

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *