शुरू हुआ एंटीजन टेस्‍ट, मिले 12 Infected, एक की मौत

                             

  Ford Hospital                           

वाराणसी/भदैनी मिरर । कोरोना मरीजों की संख्या में इजाफा होते देख प्रदेश सरकार ने एंटीजन टेस्‍ट कराने का निर्देश दिया गया है। जिसके आधार पर वाराणसी में एंटीजन टेस्‍ट में मंगलवार को 12 नये कोरोना पॉजि‍टि‍व केस सामने आये हैं। इस सम्बन्ध में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ वीबी सिंह ने बताया कि शहर में हुए एन्टीजन टेस्ट में 12 कोरोना पॉजिटिव मरीज के अलावा एक मरीज की मौत भी हुई है। मृत मरीज बिहार का रहने वाला था और बनारस से इलाज करवा रहा था। इसके साथ ही जि‍ले में अब कुल कोरोना पॉज़िटिव मरीजों की संख्या 487 हो गयी है। इनमें से 279 मरीज ठीक भी हो चुके हैं, जबकि‍ अबतक 18 लोगों की मौत हो चुकी है।189 केस एक्‍टि‍व हैं।

बता दें कि‍ इंडि‍यन काउंसि‍ल ऑफ मेडिकल रि‍सर्च ने इस एंटीजन टेस्‍ट तकनीक को केवल कंटेनमेंट जोन और अस्पताल या कोरंटीन सेंटर में इस्तेमाल करने की अनुमति दी है। इस तकनीक में व्यक्ति की नाक की दोनों तरफ़ से फ्लूइड का सैंपल लिया जाता है। फिर उसको पास ही मौजूद एक मोबाइल वैन के अंदर बनी लेबोरेटरी में इसका टेस्ट किया जाता है। अगर टेस्टिंग स्ट्रिप पर एक लाइन आती है तो इसका मतलब रि‍पोर्ट नेगेटिव होता है, लेकिन उसको पुख्ता तौर पर नेगेटिव नहीं माना जा सकता इसलिए इसे कन्फर्म करने के लिए आरटी पीसीआर टेस्ट ज़रूरी होता है।

अगर दो लाल लकीर दिखाई देती हैं तो इसका मतलब व्यक्ति पॉजिटिव है, जिसको पुख्ता तौर पर पॉजिटिव मान लिया जाएगा। लेकिन अगर कोई लकीर नहीं दि‍खती है तो इसका मतलब टेस्ट बेनतीजा है। इस तकनीक में टेस्ट का नतीजा 15 से 30 मिनट के अंदर आ जाता है। इस तकनीक को साउथ कोरिया की कंपनी ने तैयार किया है।

             

         

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *