BHU छात्रों ने सौंपा कुलपति को पत्रक, प्रवेश को लेकर की यह मांग…

                             

  Ford Hospital                           

वाराणसी/भदैनी मिरर। कोरोना संक्रमण के चलते काशी हिन्दू विश्वविद्यालय द्वारा सत्र 2020 की प्रवेश परीक्षा न कराकर पिछली कक्षा के मेरिट के आधार पर नए छात्रों का एडमिशन लेने का निर्णय लिया गया है। जिसके विरोध में सोमवार को विश्वविद्यालय के छात्रों ने कुलपति को पत्रक सौंपा।

इस दौरान छात्रों ने कहा कि विगत वर्षों में प्रवेश परीक्षा के माध्यम से ही विश्वविद्यालय में एडमिशन लिया जाता रहा है। सत्र 2020 में नए एडमिशन के लिए मेरिट को आधार बनाकर प्रवेश न लिया जाय। क्योंकि यह पद्धति पूर्णतः शिक्षा विरोधी है। इससे कमजोर, आर्थिक, समाजिक पृष्ठभूमि से आने वाले विद्यार्थीगण काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में शिक्षा लेने से वंचित रह जाएंगे। जो कि महामना के मूल्यों के विरुद्ध है। उन्होंने विश्वविद्यालय प्रशासन से मांग किया कि मेरिट को आधार मानकर एडमिशन लेने की बजाय पूर्व की भांति प्रवेश परीक्षा कराकर विश्वविद्यालय में एडमिशन लिया जाय।

इस दौरान पीएचडी स्कॉलर राहुल देव, मोहन यादव (एमए छात्र), लालचन्द्र (बीएफए छात्र), अंकित कन्नौजिया (बीए छात्र), राहुल लकी, विकास चौबे, विकास यादव आदि छात्र सम्मिलित रहे।

             

         

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *