पाला में गला रेतकर युवती की हत्या - सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद परिजन ने की शिनाख्त

डिजिटल डेस्क सतना। अमदरा थाना अंतर्गत पाला गांव के पास नहर से लगे खेत में युवती की लाश मिलने से सनसनी फैल गई है, जिसकी हत्या गला रेतकर की गई थी। पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हत्या का अपराध दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। एसडीओपी हिमाली सोनी ने बताया कि रविवार सुबह तकरीबन 10 बजे पाला निवासी रामकेश यादव की पत्नी गांव से लगभग एक किलोमीटर दूर स्थित खेत पर उपले बनाने गई थी, जहां अरहर की फसल के बीच युवती की लाश पड़ी मिली, तब उसने इसकी जानकारी अपने पति को दी, जिसने थाने में खबर की। टीआई महेन्द्र ओझा फौरन मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गए। पहले तो युवती की पहचान नहीं हो पाई थी, मगर जब सोशल मीडिया पर फोटो वायरल की गई, तब नादन क्षेत्र के देवरी निवासी कुशवाहा परिवार ने उसकी शिनाख्त वर्षा कुशवाहा के रूप में कर ली जो दो दिन से लापता थी। मृतका के भाई और परिवार के लोग देर शाम मैहर पहुंचे, जहां से उन्हें अमदरा ले जाया गया। इसी के साथ बड़ी बाधा दूर हो गई, जिससे पुलिस को कातिल तक पहुंचने में आसानी होगी। संघर्ष के निशान नहीं, दूसरी जगह हत्या की आशंका घटना स्थल पर संघर्ष के कोई निशान नहीं मिले, युवती की लाश जहां पड़ी थी, जिसका गला किसी धारदार हथियार से रेता गया था। खेत में ही करीब 20 मीटर की दूरी पर खून पड़ा था, जहां से लाश को घसीटने के निशान भी दिख रहे थे।  पुलिस और फॉरेंसिक टीम को प्राथमिक तौर पर रेप के चिन्ह नहीं मिले हैं। माना जा रहा है कि युवती को गला दबाकर कहीं और मारने के बाद खेत में गला रेता गया। जमीन पर खून तो बिखरा है, मगर हाथ या शरीर में खून नहीं लगा है। घटना स्थल से ही कुछ दूरी पर बरगी की मेन कैनाल है, जिसके बगल से रास्ता निकला है जो एक तरफ कटनी और दूसरी तरफ मैहर को जाता है। हत्या में एक से ज्यादा लोग शामिल हो सकते हैं, जो युवती को मृत या बेहोशी की हालत में खेत तक ले गए। ऐसे हुई शिनाख्तगी मृतका के पास पहचान के कोई चिन्ह, परिचय पत्र या मोबाइल नहीं मिला था, जिस पर पाला समेत आसपास के गांवों से लोगों को बुलाया गया पर उन्होंने भी शिनाख्त नहीं की। ऐसे में पुलिस ने सोशल मीडिया के अलावा जिले के सभी थानों और पड़ोसी जिलों की पुलिस की युवती की फोटो भेजकर पता लगाने की मदद मांगी थी। युवती ने नीले रंग का चेक वाला कुर्ता, काले रंग की पैजामी, ग्रे कलर के मोजे और काली स्वेटर पहन रखी थी। उसके बाएं हाथ की कलाई में अंग्रेजी में पीके का गोदना बना था। पुलिस के साथ फॉरेन्सिक टीम और डॉग स्क्वॉयड ने भी घटना स्थल का जायजा लेकर भौतिक साक्ष्य जुटाए तो फिंगर प्रिंट विशेषज्ञ ने भी जांच की है। एसपी ने बनाई टीम पुलिस कप्तान धर्मवीर सिंह ने घटना स्थल का मुआयना करने के बाद एसडीओपी हिमाली सोनी और अमदरा टीआई महेन्द्र ओझा को हत्या की जांच में सभी संभावित बिंदुओं पर तेजी से जांच करने के निर्देश दिए तो मैहर टीआई देवेन्द्र सिंह चौहान, बदेरा थाना प्रभारी भूपेन्द्रमणि पांडेय और देहात थाना प्रभारी आरपी मिश्रा को भी मौके पर बुलाकर कत्ल की गुत्थी सुलझाने के लिए टीम शामिल कर अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंप दी हैं।   .Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.....Girl murdered by slitting throat in Pala - family identified after photo went viral on social media. ..

 पाला में गला रेतकर युवती की हत्या - सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद परिजन ने की शिनाख्त

डिजिटल डेस्क सतना। अमदरा थाना अंतर्गत पाला गांव के पास नहर से लगे खेत में युवती की लाश मिलने से सनसनी फैल गई है, जिसकी हत्या गला रेतकर की गई थी। पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ हत्या का अपराध दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। एसडीओपी हिमाली सोनी ने बताया कि रविवार सुबह तकरीबन 10 बजे पाला निवासी रामकेश यादव की पत्नी गांव से लगभग एक किलोमीटर दूर स्थित खेत पर उपले बनाने गई थी, जहां अरहर की फसल के बीच युवती की लाश पड़ी मिली, तब उसने इसकी जानकारी अपने पति को दी, जिसने थाने में खबर की। टीआई महेन्द्र ओझा फौरन मौके पर पहुंचकर जांच में जुट गए। पहले तो युवती की पहचान नहीं हो पाई थी, मगर जब सोशल मीडिया पर फोटो वायरल की गई, तब नादन क्षेत्र के देवरी निवासी कुशवाहा परिवार ने उसकी शिनाख्त वर्षा कुशवाहा के रूप में कर ली जो दो दिन से लापता थी। मृतका के भाई और परिवार के लोग देर शाम मैहर पहुंचे, जहां से उन्हें अमदरा ले जाया गया। इसी के साथ बड़ी बाधा दूर हो गई, जिससे पुलिस को कातिल तक पहुंचने में आसानी होगी। 
संघर्ष के निशान नहीं, दूसरी जगह हत्या की आशंका
घटना स्थल पर संघर्ष के कोई निशान नहीं मिले, युवती की लाश जहां पड़ी थी, जिसका गला किसी धारदार हथियार से रेता गया था। खेत में ही करीब 20 मीटर की दूरी पर खून पड़ा था, जहां से लाश को घसीटने के निशान भी दिख रहे थे।  पुलिस और फॉरेंसिक टीम को प्राथमिक तौर पर रेप के चिन्ह नहीं मिले हैं। माना जा रहा है कि युवती को गला दबाकर कहीं और मारने के बाद खेत में गला रेता गया। जमीन पर खून तो बिखरा है, मगर हाथ या शरीर में खून नहीं लगा है। घटना स्थल से ही कुछ दूरी पर बरगी की मेन कैनाल है, जिसके बगल से रास्ता निकला है जो एक तरफ कटनी और दूसरी तरफ मैहर को जाता है। हत्या में एक से ज्यादा लोग शामिल हो सकते हैं, जो युवती को मृत या बेहोशी की हालत में खेत तक ले गए। 
ऐसे हुई शिनाख्तगी
मृतका के पास पहचान के कोई चिन्ह, परिचय पत्र या मोबाइल नहीं मिला था, जिस पर पाला समेत आसपास के गांवों से लोगों को बुलाया गया पर उन्होंने भी शिनाख्त नहीं की। ऐसे में पुलिस ने सोशल मीडिया के अलावा जिले के सभी थानों और पड़ोसी जिलों की पुलिस की युवती की फोटो भेजकर पता लगाने की मदद मांगी थी। युवती ने नीले रंग का चेक वाला कुर्ता, काले रंग की पैजामी, ग्रे कलर के मोजे और काली स्वेटर पहन रखी थी। उसके बाएं हाथ की कलाई में अंग्रेजी में पीके का गोदना बना था। पुलिस के साथ फॉरेन्सिक टीम और डॉग स्क्वॉयड ने भी घटना स्थल का जायजा लेकर भौतिक साक्ष्य जुटाए तो फिंगर प्रिंट विशेषज्ञ ने भी जांच की है। 
एसपी ने बनाई टीम
पुलिस कप्तान धर्मवीर सिंह ने घटना स्थल का मुआयना करने के बाद एसडीओपी हिमाली सोनी और अमदरा टीआई महेन्द्र ओझा को हत्या की जांच में सभी संभावित बिंदुओं पर तेजी से जांच करने के निर्देश दिए तो मैहर टीआई देवेन्द्र सिंह चौहान, बदेरा थाना प्रभारी भूपेन्द्रमणि पांडेय और देहात थाना प्रभारी आरपी मिश्रा को भी मौके पर बुलाकर कत्ल की गुत्थी सुलझाने के लिए टीम शामिल कर अलग-अलग जिम्मेदारियां सौंप दी हैं।
 



.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.
.
...
Girl murdered by slitting throat in Pala - family identified after photo went viral on social media
.
.
.