डॉक्टर की पत्नी ने अपार्टमेंट के तीसरे माले से छलाँग लगाई

शुभम अस्पताल में असिस्टेंट डायरेक्टर है पति, आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी पुलिस  डिजिटल डेस्क जबलपुर । मदन महल क्षेत्र स्थित शुभम अस्पताल के असिस्टेंट डायरेक्टर डॉ. विक्रांत सिंह की पत्नी ने रात सवा दो बजे के करीब अपने अपार्टमेंट के तीसरे माले की छत  से छलाँग लगा दी। छत से कूदने पर वह गंभीर रूप से घायल हो गयी थी जिसे पति के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ रविवार की सुबह इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। अस्पताल की सूचना पर मर्ग कायम कर पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी है। सूत्रों के अनुसार मदन महल स्थित शुभम अस्पताल के असिस्टेंट डायरेक्टर विक्रांत सिंह परिहार  गुलाटी पेट्रोल पंप के पास अंकित अपार्टमेंट के तीसरे माले में रहते हैं। उनका विवाह जुलाई 2018 में दमोह निवासी आरती सिंह उम्र 30 वर्ष के  साथ हुआ था, उनकी एक डेढ़ साल की बच्ची है। तीनों अपार्टमेंट में रहते थे। रात सवा दो बजे के करीब विक्रांत, उनकी पत्नी व बेटी सभी घर पर थे। अचानक ऐसी कोई घटना हुई जिसके बाद पत्नी अपार्टमेंट की छत पर पहुँची और वहाँ से नीचे छलाँग लगा दी। जमीन पर गिरने से जोरदार आवाज हुई जिसके बाद अपार्टमेंट में रहने वाले अन्य रहवासी भी घरों से बाहर निकल आये। हादसे में गंभीर रूप से घायल हुई आरती सिंह को तत्काल पति के ही शुभम अस्पताल में भर्ती कराया गया। उधर सूचना पाकर गढ़ा पुलिस भी मौके पर पहुँच गयी। जाँच अिधकारी के मुताबिक मृतका का अपने पति से किसी लड़की को लेकर विवाद होने की जानकारी लगी है। सुबह अस्पताल में दम तोड़ा  पुलिस के अनुसार हादसे में घायल आरती सिंह ने इलाज के दौरान सुबह 11 बजे के करीब दम तोड़ दिया। सूचना मिलने पर मर्ग कायम कर शव को पीएम के लिए भेजा गया। पीएम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द किया गया। परिजन आरती का शव उसकी ससुराल  शहपुरा भिटौनी ले गये, जहाँ उसका अंतिम संस्कार किया गया।  कारण जानने जाँच जारी  चकित्सक की पत्नी द्वारा अपने अपार्टमेंट की छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने के कारणों का पता लगाने जाँच की जा रही है। पुलिस परिजनों व आसपास रहने वालों से पूछताछ कर आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी है।  राकेश तिवारी, टीआई      .Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.....The doctor's wife jumped from the third floor of the apartment. ..

डॉक्टर की पत्नी ने अपार्टमेंट के तीसरे माले से छलाँग लगाई

शुभम अस्पताल में असिस्टेंट डायरेक्टर है पति, आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी पुलिस 
डिजिटल डेस्क जबलपुर ।
मदन महल क्षेत्र स्थित शुभम अस्पताल के असिस्टेंट डायरेक्टर डॉ. विक्रांत सिंह की पत्नी ने रात सवा दो बजे के करीब अपने अपार्टमेंट के तीसरे माले की छत  से छलाँग लगा दी। छत से कूदने पर वह गंभीर रूप से घायल हो गयी थी जिसे पति के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ रविवार की सुबह इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी। अस्पताल की सूचना पर मर्ग कायम कर पुलिस आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी है। सूत्रों के अनुसार मदन महल स्थित शुभम अस्पताल के असिस्टेंट डायरेक्टर विक्रांत सिंह परिहार  गुलाटी पेट्रोल पंप के पास अंकित अपार्टमेंट के तीसरे माले में रहते हैं। उनका विवाह जुलाई 2018 में दमोह निवासी आरती सिंह उम्र 30 वर्ष के  साथ हुआ था, उनकी एक डेढ़ साल की बच्ची है। तीनों अपार्टमेंट में रहते थे। रात सवा दो बजे के करीब विक्रांत, उनकी पत्नी व बेटी सभी घर पर थे। अचानक ऐसी कोई घटना हुई जिसके बाद पत्नी अपार्टमेंट की छत पर पहुँची और वहाँ से नीचे छलाँग लगा दी। जमीन पर गिरने से जोरदार आवाज हुई जिसके बाद अपार्टमेंट में रहने वाले अन्य रहवासी भी घरों से बाहर निकल आये। हादसे में गंभीर रूप से घायल हुई आरती सिंह को तत्काल पति के ही शुभम अस्पताल में भर्ती कराया गया। उधर सूचना पाकर गढ़ा पुलिस भी मौके पर पहुँच गयी। जाँच अिधकारी के मुताबिक मृतका का अपने पति से किसी लड़की को लेकर विवाद होने की जानकारी लगी है। 
सुबह अस्पताल में दम तोड़ा 
पुलिस के अनुसार हादसे में घायल आरती सिंह ने इलाज के दौरान सुबह 11 बजे के करीब दम तोड़ दिया। सूचना मिलने पर मर्ग कायम कर शव को पीएम के लिए भेजा गया। पीएम के बाद शव परिजनों के सुपुर्द किया गया। परिजन आरती का शव उसकी ससुराल  शहपुरा भिटौनी ले गये, जहाँ उसका अंतिम संस्कार किया गया। 
कारण जानने जाँच जारी 
चकित्सक की पत्नी द्वारा अपने अपार्टमेंट की छत से कूदकर आत्महत्या किए जाने के कारणों का पता लगाने जाँच की जा रही है। पुलिस परिजनों व आसपास रहने वालों से पूछताछ कर आत्महत्या के कारणों का पता लगाने में जुटी है। 
राकेश तिवारी, टीआई   
 



.Download Dainik Bhaskar Hindi App for Latest Hindi News.
.
...
The doctor's wife jumped from the third floor of the apartment
.
.
.